Love

वो जो दराज़ में डब्बो के नीचे
काफी समय से संभाल कर रखे है,
समझ में नहीं आता
उन्हें मैं ‘खत’ कहूँ
या
‘खता’

Advertisements